Skip to main content

Posts

हवन से भगा रहे हैं चमकी बुखार, बच्चों की मौत पर पाखंडियों का नंगा नाच

अगर  हवन पूजन से कुछ होना था, तो पहले ही कर देते. हद है, जब बुखार फैल गया तब कर रहे हो. सीधे ही ईश्वर को फोन क्यों नहीं लगा देते, हे ईश्वर! चमकी बुखार को वापस ले ले, इसे यहां भेजने की क्या जरूरत थी. मुजफ्फरपुर में पुजारियों के एक समूह ने चमकी बुखार के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए हवन किया.   दोस्तों विज्ञान में बहुत विकास कर लिया है, परंतु धार्मिक पाखंड मनुष्य का आज भी पीछा नहीं छोड़ रहा है. पाखंडी इसका फायदा उठाकर जनता को मूर्ख बनाते हैं और समाज में अज्ञानता का विकास करते हैं. शायद इसी ईश्वरवाद के वशीभूत होकर लोग सरकार से सवाल नहीं पूछते. आखिर सरकार ने बुखार फैलने के बाद और पहले क्या किया, जिससे कि बच्चों की जान बच सकें. दोस्तों सच्चाई यह है कि 100 साल पहले भी तरह-तरह की महामारियां फैलती थीं. जिसमें लाखों लोग मारे जाते थे. इन महामारियो की रोक के लिए इंग्लैंड के एक डॉक्टर, डा. एडवर्ड जेनर ने टीके की खोज की. उन्होंने यह टीका चेचक के लिए बनाया था. भारत में पहले लोग चेचक को भी ईश्वरीय प्रकोप मानते थे. कम चेचक होने पर उसे छोटी माता कहते थे, बड़ा चेचक होने पर उसे बड़ी माता कहते थे. परंतु …
Recent posts

इस कार्टून को देखने के बाद, मोदी और मीडिया विरोधी हो जाएंगे आप

मीडिया और मोदी की सच्चाई मशहूर अमेरिकी कार्टूनिस्ट, Ben Garrison ने अपने इस कार्टून में बखूबी पेश की है. इस कार्टून को देख कर आप मोदी विरोधी हो जाएंगे और टीवी देखना भी छोड़ देंगे.

सम्यक पार्टी की बरेली जिला कार्यकारिणी का गठन, राष्ट्रीय अध्यक्ष तपेंद्र शाक्य उपस्थित रहे

सम्यक पार्टी की बरेली जिला कार्यकारिणी का गठन, कल दिनांक 16 मार्च 2019 को  शाम के समय हुआ. सम्यक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष तपेंद्र शाक्य जी की उपस्थिति में कार्यकारिणी का गठन बरेली मंडल अध्यक्ष देवेंद्र मौर्य के द्वारा किया गया. श्री विजय सिंह मौर्य को जिलाध्यक्ष, चंद्रपाल मौर्य एडवोकेट को जिला उपाध्यक्ष ,कुंवर भूपेंद्र मौर्य के जिला महासचिव संगठन, टी आर मौर्य जी को जिला कोषाध्यक्ष, पी पी मौर्य को जिला प्रवक्ता नामित किया गया। महेंद्र सिंह, पप्पू जी,  धर्मवीर मौर्य ,गंगा राम फौजी, हरपाल मौर्य  तथा तमाम लोगों ने सम्यक पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष , उ प्र सम्यक महिला सभा मा कविता अरोड़ा भी उपस्थित रहीं. - द फाइंडर ब्यूरो

बुद्ध कथा का आयोजन, पंचशील नगर बरेली में, 2 अप्रैल 2019 से

बुद्ध व भीम कथा, का आयोजन, द बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया, के द्वारा पंचशील नगर बरेली में किया जा रहा है, सोसायटी के प्रदेश अध्यक्ष इंजीनियर एसडी भास्कर से प्राप्त जानकारी के अनुसार कथा 2 अप्रैल से 6 अप्रैल तक चलेगी. कथा का वाचन, प्रसिद्ध बुद्ध कथावाचिका कुमारी रजनी शाक्य बौद्ध करेंगी.  - द फाइंड ब्यूरो

देश के लिए पटेल या सुभाष चाहिए. -कवि हरिओम पवार

महा कवि हरिओम पवार की देशभक्ति से ओतप्रोत कविता देश के लिए पटेल या सुभाष चाहिए इस वीडियो में दी गई है. अतः आपसे अनुरोध है की आप इस वीडियो को देखें और बहुत सारे लोगों को शेयर करें. -द फाइंडर ब्यूरो

पुलवामा आतंकी हमले की असली जिम्मेदार मोदी सरकार है.

पुलवामा आतंकी हमले की असली दोषी हमारी सरकार है, जैसा कि आप जानते हैं कि पुलवामा में आतंकी हमले में हमारे 42 जवान शहीद हो गए, जिससे सारा देश शोक में है. सवाल उठ रहे हैं कि आखिर पुलवामा आतंकी हमले का असली जिम्मेदार कौन है. इस सवाल का जवाब सभी लोग पाकिस्तान पर आरोप लगाकर दे रहे हैं कि इस हमले का दोषी पाकिस्तान है. परंतु साथियों इस हमले के लिए हमारी सरकार कम दोषी नहीं है.
-इस हमले में हमारा पूरा तंत्र फेल हुआ है हमें अपने तंत्र को सुधारने की आवश्यकता है तभी हम इस तरह के हम ने रोक सकते हैं.
-हमें आतंकवाद के सरगनाओं को पकड़ने की जरूरत है पैसे की जैश ए मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर.
आतंकवाद का समाधान जानना चाहते हैं तो ऊपर का वीडियो जरूर देखें.
-द फाइंडर ब्यूरो

पुलवामा आतंकवादी हमले पर दुखी न हो बल्कि.....

देश के नागरिकों से अनुरोध है कि पुलवामा आतंकवादी हमले पर दुखी न हो. बल्कि आक्रोशित हो, उन लोगों पर जिन्होंने धारा 370 हटाने का वादा किया था. एक के बदले 10 सिर लाने का वादा किया था. कश्मीर को भारत में पूरी तरह से मिलाने का वादा किया था. अलगाववादी समर्थक पार्टी के साथ हां दोस्तों यही मोदी जब सरकार में नहीं थे. तब आतंकवाद के खिलाफ बड़े-बड़े भाषण देते थे. कश्मीर से धारा 370 खत्म करने की बात करते थे पर जब से सरकार में आए तो धारा 370 को भूल गए. धारा 370 को एक बार भी हटाने का प्रयास नहीं किया. मोदी जी बड़ी-बड़ी बातें करते थे बल्कि कश्मीर में अलगाववादियों की सरकार के साथ उन्होंने सरकार भी बनाई. मनुवादी हैं राष्ट्रवादी नहीं मोदी सरकार का मनुवाद उस समय सामने आ गया, जब असंवैधानिक सवर्ण आरक्षण उन्होंने केवल 24 घंटे के अंदर सदन में पास करके 72 घंटे के अंदर लागू कर दिया. सभी पार्टियों ने सवर्ण आरक्षण का समर्थन किया परंतु कश्मीर में धारा 370 पर किसी पार्टी का मुंह नहीं खोला. भाजपा जो कि अपने चुनावी मुद्दों में अक्सर धारा 370 का रोना रोती रही है, उसने अपनी सरकार में धारा 370 को हटाने का कोई प्रयास नहीं…